DEMO ARTICLE BY NIRAJ KUMAR

0
234
Offline Business Ideas Logo 3
Sorry for spieling mistake in this Logo.

आपका वोट आपका मुद्दा, आपका नेता : जो आप सोचते है वही मुद्दे होंगे चुनाव में. जिसे आप चाहेंगे वही बनेगा आपका नेता. हम यह सुनिश्चित करंगे की आपके मुद्दों पर चर्चा हो. हम बनेंगे आपकी आवाज.

हिंदुस्तान हेल्पलाइन : चुनाव सम्बन्धी किसी भी जानकार, इस अख़बार मेंछपने वाली किसी सामग्री से सम्बंधित शिकायत के लिए आप हमारी ईमेल आईडी ark@livehindustan.com पर संपर्क करे. यहाँ मिलेगा आपके हर सवाल का जवाब.

हमारा संकल्प : कृपया पन्ना पलटिये और देखिये हमारा संकल्प, जहाँ हम मानते है की मिडिया आम आदमी के लिए और आम आदमी के जरिए होना चाहिए. किसी भी अख़बार की असली ताकत उसके पाठक हैं. आपसे एक साझेदारी की गुजारिश है. अगर आपको लगे की हिंदुस्तान में छपी सामग्री हमारे संकल्प के अनुरूप नहीं है तो हमें तुरंत ark@livehindustan.com पर ईमेल करे.

कहानी

एक बार महात्मा बुध्ह एक सभा में बिना कुछ बोले ही वहाँ से चले गए. उस सभा में सैकड़ो लोग आये थे. दुसरे दिन उससे कम आये इसी तरह यह संख्या एक दिन बहुत कम हो गई. प्रवचन के अंतिम दिन केवल 50 लोग ही पहुंचे. महात्मा बुद्ध आये, उन्होंने इधर-उधर देखा और बिना कुछ कहे वापिस चले गए. इस तरह सैम बीतता गया. तथागत आते और चले जाते रहे. जब हमेशा की तरह महात्मा बुद्ध प्रवचन देने पहुंचे तो वह एक ही व्यक्ति मौजूद था. तथागत ने पूछा तुम यहाँ क्यों रुके हो? उसने कहा धैर्य के कारण उस दिन तथागत एक ही व्यक्ति को ज्ञान देकर उस गाँव से चले गए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here